डेफनी कारुआना गैलिज़िया

डेफनी कारुआना गैलिज़िया : पनामा पेपर जांच की मुख्य पत्रकारों में से एक की माल्टा में हत्या

डेफनी कारुआना गैलिज़िया

पनामा पेपर्स लीक्स के मामले ने पूरे दुनिया के नेता, अभिनेता व उद्योगपतियों को हिला कर रख दिया था | डेफनी कारुआना गैलिज़िया पनामा पेपर्स के खुलासा करने वाले मुख्य पत्रकारों में से एक थी | 53 साल की डेफने कारुआना गैलिज़िया जिनकी सोमवार (17 अक्टूबर 2017) को कार बम विस्फोट के द्वारा हत्या कर दी गई | विस्फोट इतना शक्तिशाली था की उनकी कार के परखच्चे उड़ गए जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई | घटना की जानकारी के कुछ ही समय में उनकी मौत की खबर चारो तरफ बड़ी तेजी से फैल गई |

क्या था पनामा पेपर्स जांच का मामला

ज्ञात हो सन 2016 में अमेरिका के खोजी पत्रकारों के एक समूह ICIJ ने पनामा पेपर्स मामले की जांच की थी | डेफनी कारुआना गैलिज़िया जांच का नेतृत्व करने वाली मुख्य पत्रकारों में से एक थी | इस मामले में दुनिया की कई बड़ी हस्तियो के नाम शामिल थे | इसमें नेता, अभिनेता,खिलाडी और कई उद्योगपति भी शामिल थे | भारत में भी कई बड़ी हस्तिया शामिल थी जिसमे अभिनेता अमिताभ बच्चन,ऐश्वर्या राय तथा DLF प्रमोटर के पी सिंह आदि थे|

ये भी पढ़े –गुजरात के सूरत में दुष्कर्म के मामले में फंसे जैन मुनि शांति सागर

डेफनी कारुआना गैलिज़िया अपना एक ब्लॉग (Running commentry) भी चलाती थी जो काफी फेमस था जिसमे वो अक्सर भ्रष्टाचार के नए मामले उजागर करती रहती थी | अपनी मौत के कुछ समय पहले ही उन्होंने माल्टा के प्रधान मंत्री जोसेफ मस्कट के चीफ ऑफ़ स्टाफ के खिलाफ भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था |
द टाइम्स ऑफ़ माल्टा के मुताबिक उन्होंने दो हफ्ते पहले पुलिस को शिकायत भी की थी कोई उन्हें धमकी दे रहा है | वहीं घटना के बाद माल्टा के प्रधान मंत्री ने शोक व्यक्त करते हुए ट्विटर पर लिखा कि “यह हमला नागरिक और अभिव्यक्ति की आजादी पर एक दमनकारी हमला है | जब तक न्याय नहीं किया जाता तब तक वो चैन से नहीं बैठेंगे ” |
वही विकीलीक्स के संथापक जूलियन अंसाजे ने ट्वीट करके बताया की वो हत्यारे का पता लगाने वाले को €20k का इनाम भी देंगे |

अपनी राय दें

avatar
3000
  Subscribe  
Notify of