यह एक भ्रम है

यह एक भ्रम है कि निजी क्षेत्र के शैक्षिक संस्थान बेहतर होते है – राहुल गाँधी

राजस्थान चुनावों को लेकर इस वक़्त सभी पार्टियों की आपसी खींचा – तानी जोरों पर है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी भी इस वक़्त राजस्थान के चुनावी मैदान में डटे हुए है। राजस्थान के उदयपुर में व्यापारी समुदाय और प्रोफेशनल्स को संबोधित किया। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक उन्होंने कहा ‘यह एक भ्रम है कि निजी क्षेत्र के शैक्षिक संस्थान बेहतर होते है।

हम इस विचार से स्पष्ट हैं कि हम शिक्षा और स्वास्थ्य देखभाल के लिए सरकारी संस्थानों के बिना देश को नहीं चला सकते हैं।’ राहुल गाँधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए आगे कहा ‘क्या आप जानते हैं? श्री नरेंद्र मोदी की सर्जिकल स्ट्राइक की तरह, मनमोहन सिंह जी ने 3 बार ऐसी सर्जिकल स्ट्राइक की थी? जब सेना, श्री मनमोहन सिंह के पास आई और कहा कि हमें पाकिस्तान द्वारा किए गए कार्यों की जवाब देने की जरूरत है,साथ में उन्होंने यह भी कहा कि हम अपने उद्देश्यों को गुप्त रखना चाहते हैं।

ये भी पढ़े – राजस्थान के उदयपुर में व्यापारी समुदाय और प्रोफेशनल्स को संबोधित किया।

नरेंद्र मोदी जी सेना के डोमेन में पहुंच गए और उनकी सर्जिकल स्ट्राइक को एक नया ही रूप दे दिया। उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक को राजनीतिक संपत्ति बना दिया। जबकि यह निर्णय सेना का था। यह फायदेमंद होता अगर कोई सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में नहीं जानता। लेकिन श्री नरेंद्र मोदी ऐसा नहीं चाहते थे। जब वह उत्तरप्रदेश में चुनाव लड़ रहे थे और अपनी हार होते हुए देखकर, उन्होंने सैन्य संपदा को राजनीतिक संपदा में परिवर्तित कर दिया।’

साथ ही राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हिन्दू होने के दावे पर सवाल उठाते हुए कहा ‘हिंदू धर्म का सार क्या है? गीता क्या कहती है? वह ज्ञान हर किसी के साथ है, ज्ञान आपके चारों ओर है। प्रत्येक जीवित ज्ञान है। हमारे प्रधान मंत्री कहते हैं कि वह एक हिंदू है लेकिन वह हिंदू धर्म की नींव को ही समझ नहीं पाते है। वह किस तरह के हिंदू है?’

NS Team

News Scams is a online community which provide authentic news content to its users.

अपनी राय दें

avatar
3000
  Subscribe  
Notify of