चंद्रशेखर ने कहा मायावती

चंद्रशेखर ने कहा मायावती को बुआ, तो बुआ ने कहा मेरा ऐसे लोगों से कोई रिश्ता नहीं

चंद्रशेखर ने कहा मायावती को बुआ: हाल ही में जेल से रिहा हुए भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ़ रावण ने कहा था कि वो 2019 में बीजेपी का सूपड़ा साफ़ देखना चाहते है। वहीं उन्होंने बसपा प्रमुख मायावती को अपनी बुआ बताया।

बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान रावण के बुआ कहने पर कहा कि ऐसे लोगों से उनका कोई रिश्ता नहीं है। उनका रिश्ता आम दलित, आदिवासियों और पिछड़े तबके के लोगों से है।

मायावती ने गठबंधन पर कहा कि वो गठबंधन सिर्फ तभी करेगी जब उनकी पार्टी को सम्मानजनक सीटें मिलेगी, वरना उनकी पार्टी अकेले ही मैदान में उतरेगी। बसपा सुप्रीमों ने केंद्र की भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि, ‘भाजपा ओबीसी व एससी – एसटी युवाओं को सिर्फ महापुरुषों के नाम पर गुमराह कर रही है।

केंद्र में खाली पड़े पदों को नहीं भर रही। 2 अप्रैल को भारत बंद के प्रदर्शन में शामिल दलित युवाओं को जेल में डाल दिया गया। जिससे भाजपा का दलित विरोधी चेहरा सबके सामने आ गया।’

ये भी पढ़े – सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज ने संविधान,सेना के बाद आरएसएस को बताया देश का रक्षक

देश में हो रही मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर मायावती ने कहा कि ‘भारतीय जनता पार्टी के शासित राज्यों में गो-रक्षा के नाम पर माब लॉन्चिंग लोकतंत्र को कलंकित कर रहा है, बीजेपी सरकार से दलित, आदिवासी,पिछड़े, अल्पसंख्यक वर्ग काफी आहत है।’

साथ ही उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार केंद्र तथा राज्यों में अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए तरह – तरह के हथकंडे अपना रही है। चुनावों के दौरान अपने किये गए वादों को पूरा नहीं किया है, वो अटल जी की मृत्यु पर भी राजनीति कर रहे है।

ये भी पढ़े – अब मध्यप्रदेश के भोपाल के शेल्टर होम में मासूम बच्चों से दरिंदगी

गौरतलब हो कि भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर अभी हाल ही में जेल से बाहर आये है। उन पर आरोप था कि उन्होंने सहारनपुर हिंसा में मुख्य भूमिका निभाई। जिसकी वजह से जान – माल का नुकसान हुआ। वहीं राज्य की योगी सरकार ने भी रासुका लगाकर उनको जमानत से बाहर नहीं आने दिया। हालांकि बाद में सरकार को झुकना पड़ा और रावण को रिहा कर दिया गया।

0 0 vote
Article Rating

NS Team

News Scams is a online community which provide authentic news content to its users.
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments