फेसबुक पर ऍप्स

फेसबुक पर ऍप्स और वेबसाइटस को अपनी जानकारी कैसे लेने से रोक सकते है

फेसबुक पर ऍप्स और वेबसाइटस का नियंत्रण: निजता का अधिकार या राइट टू प्राइवेसी आज की इस डिजिटल दुनिया में एक गंभीर मुद्दा है| अभी हाल ही में कैंब्रिज एनालिटिका द्वारा फेसबुक के 5 करोड़ यूजर्स का डाटा चुराने का मामला सामने आने के बाद अब हर कोई अपने निजता के अधिकार को लेकर चिंतित है| जानकारी के लिये बता दे की कैंब्रिज एनालिटिका वह कंपनी है जिसने फेसबुक का डाटा चुराकर राजनैतिक पार्टियों की रणनीतियाँ बनाने में मदद की थी और कई देशो के चुनावो को प्रभावित किया था जिसमे भारत देश भी शामिल है|

वही फेसबुक को भी इस मामले को लेकर कई मुसीबतो का सामना करना पड़ रहा है| यहाँ तक की फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग को सार्वजानिक रूप से सामने आकर मांफी मांगनी पड़ी थी| फेसबुक पर दुनियाभर से अरबो यूजर्स जुड़े हुए है,फेसबुक के सामने अब उनकी जानकारियों की सुरक्षा करना एक गंभीर मसला है| साथ ही यह भी सुनिश्चित करना कि उनकी जानकारियों का इस्तेमाल कैंब्रिज एनालिटिका की तरह गलत कामो में न हो|

हालाँकि कुछ मामलो फेसबुक टर्म्स एंड कंडीशन को आधार पर रखकर अपने आप को कई जिम्मेदारियों से बचा लेता है | जिसके बाद फेसबुक उपयोगकर्ता की जिम्मेदारी होती है कि वो अपनी जानकारियाँ को ऍप्स और वेबसाइटस को किस तरह साझा करता है| ज्यादातर मामलो में यूजर्स को यह पता ही नहीं रहता कि वो अपने फेसबुक अकाउंट की जानकारियाँ किस हद तक शेयर या साझा करते है|

लेकिन हकीकत यह है कि जब आप फेसबुक के जरिये किसी ऍप्स या वेबसाइट पर लॉगिन करते है तो आपके अकाउंट की लगभग सारी जानकारियाँ शेयर होती है, इन जानकारियों में कि आप क्या पोस्ट करते है,क्या शेयर करते है,आप फेसबुक पर किन पोस्ट्स पसंद करते है,यहाँ तक की आपके प्राइवेट मैसेजस(सन्देश) भी उस ऍप्स या वेबसाइट की पहुंच में होते है| आप और हम में से कोई नहीं चाहेगा की कोई दूसरा व्यक्ति आपके द्वारा शेयर की गये प्राइवेट मैसेजस को चेक करे या फिर आपकी गतिविधियों पर नजर रखे|

ये भी पढ़े – त्रिपुरा के सीएम विप्लव कुमार देव बोले महाभारत काल में मौजूद था इंटरनेट

हालाँकि फेसबुक ने अब यह सुविधा प्रदान कर रखी है कि आप किन वेबसाइटस या ऍप्स से अपनी जानकारियाँ साझा करना चाह्ते है| यह ऑप्शन आप अपने फेसबुक अकाउंट की सेटिंग्स में जाकर ऍप्स एंड वेबसाइटस में देख सकते है कि आपने किन वेबसाइटस और ऍप्स को अपनी जानकारियाँ साझा करने की इजाजत दे रखी है|

फेसबुक पर ऍप्स और वेबसाइटस के कण्ट्रोल को कैसे ख़त्म करे

फेसबुक पर ऍप्स और वेबसाइटस के कण्ट्रोल को ख़त्म करने के लिए सबसे पहले आपको अपने अकाउंट को फेसबुक पर लॉगिन करना पड़ेगा| लॉगिन करने के बाद ऊपर की ओर प्रश्न के चिन्ह के दायी तरफ स्थित डाउन एरो के बटन को दबाये तथा सेटिंग्स पर क्लिक करे|

फेसबुक पर ऍप्स
Facebook apps and website option

सेटिंग पर क्लिक करने के बाद नयी स्क्रीन दिखेगी जहाँ बायीं ओर ऍप्स एंड वेबसाइटस का नया ऑप्शन(विकल्प) दिखेगा| ऍप्स एंड वेबसाइटस पर क्लिक करने के बाद दायी तरफ एक्टिव, एक्सपायरड और रिमूवड नाम के तीन नये विकल्प दिखेंगे| यहाँ आप उन एक्टिव ऍप्स और वेबसाइटस के नियंत्रण को ख़त्म कर सकते है| नियंत्रण को ख़त्म करने के लिये आपको उस ऍप्स के सामने चेक का ऑप्शन दबाना है जिसके बाद उस ऍप्स का नियंत्रण आपके अकाउंट के ऊपर से हट जायेगा|

फेसबुक पर ऍप्स
Facebook app select and removed option

ध्यान दें

अगर आप किसी वेबसाइट या ऍप पर फेसबुक के माध्यम से लॉगिन है तो आपका अकाउंट उस ऍप या वेबसाइटस हट जायेगा| जिसकी वजह से आप वहां लॉगिन नहीं कर पायेंगे| तो कृपया अपनी सूझ – बूझ के साथ काम ले|

अपनी राय दें

avatar
3000
  Subscribe  
Notify of